गुजरात चुनाव : कांग्रेस के निर्वाचित अध्यक्ष राहुल गांधी जगन्नाथ मंदिर में माथा टेकने पहुंचे

गुजरात चुनाव : कांग्रेस के निर्वाचित अध्यक्ष राहुल गांधी जगन्नाथ मंदिर में माथा टेकने पहुंचे

अहमदाबाद: गुजरात चुनाव प्रचार के आखिरी दिन कांग्रेस के निर्वाचित अध्यक्ष राहुल गांधी आज अहमदाबाद के जगन्नाथ मंदिर पहुंचे. राहुल गांधी ने जगन्नाथ मंदिर पहुंच कर पूजा-अर्चना की. राहुल आज कांग्रेस के नेताओं से भी मिलेंगे. गौरतलब है कि आज गुजरात में चुनाव प्रचार का आखिरी दिन है. 14 नवंबर को दूसरे व आखिरी चरण के लिए वोट पड़ेंगे. गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को आज अहमदाबाद में रोड शो करना था, पर अहमदाबाद प्रशासन ने इसकी अनुमति नहीं दी.

 

अहमदाबाद पुलिस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को रोड शो करने की अनुमति देने से इनकार कर दिया. रोड शो कार्यक्रम रद्द होने के बाद राहुल गांधी आज जगन्नाथ मंदिर पहुंचे और पूजा अर्चना की जबकि पीएम नरेंद्र मोदी आज सी प्लेन में उड़ान भरेंगे और अंबाजी मंदिर पहुंचकर पूजा-अर्चना करेंगे.

राहुल गांधी का नाम गैर-हिंदू रजिस्टर में दर्ज किया गया था-

बताते चलें कि राहुल के सोमनाथ मंदिर में गैर-हिंदू दर्शनार्थियों को दर्शन से पहले दिए जाने वाले रजिस्टर में अपना नाम दर्ज कराने पर बवाल खड़ा हो गया था. राहुल गांधी का नाम वहां पर गैर-हिंदू रजिस्टर में दर्ज किया गया था. इस ख़बर के फैलते ही बीजेपी ने राहुल के धर्म पर सवाल खड़ कर दिए थे. इसके बाद कांग्रेस की ओर से तस्वीर जारी करते हुए कहा गया है कि राहुल गांधी हिंदू ही नहीं जनेऊधारी भी है.

वहीं सोमवार को गुजरात के सावली में चुनावी सभी में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि वह गुजरात चुनावों में पाकिस्तान, चीन, अफगानिस्तान और जापान की बात कर रहे हैं लेकिन अपने गृह राज्य के बारे में नहीं बोल रहे हैं.

शाह की कंपनी पर ‘चुप्पी’ साधने के लिए भी मोदी पर सवाल उठाए-

राहुल ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह की कंपनी पर ‘चुप्पी’ साधने के लिए भी मोदी पर सवाल उठाए. दावा किया जाता है कि उनकी कंपनी का टर्नओवर भाजपा के केंद्र में सत्तारूढ़ होने के बाद कई गुना बढ़ गया. राहुल ने कहा कि मोदी गुजरात में अपने प्रचार का मुद्दा लगातार बदल रहे हैं. राहुल को आज ही कांग्रेस का अध्यक्ष निर्वाचित किया गया. उन्होंने कहा कि पहले नर्मदा के पानी पर बात की गई लेकिन जब किसानों ने कहना शुरू किया कि उनके खेतों तक पानी पहुंचा ही नहीं तो मोदी ने पटरी बदल दी और ओबीसी मुद्दों पर बोलने लगे. जब लोगों ने उसे भी पसंद नहीं किया तो वह विकास के मुद्दों पर चले गए लेकिन ‘‘लोगों ने इसकी भी हवा निकाल दी.’’

14 दिसंबर को वोट डाले जाएंगे.-

आपको बता दें कि गुजरात में दूसरे चरण के लिए 14 दिसंबर को वोट डाले जाएंगे. इस फेज़ में 14 जिलों की 93 सीटों पर वोट डलेंगे. इस चरण में गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल, कौशिक पटेल, अल्पेश ठाकोर, जिग्नेश मेवाणी और सिद्धार्थ पटेल जैसी बड़ी हस्तियों की किस्मत दांव पर है. पहले चरण के लिए 9 दिसंबर को 68 फीसदी मतदान हुए थे.

News18tv

Related Posts
Leave a reply